Samrat Mixture
Breaking News

आग के गोले की तरह बरसते हैं राफेल फाइटर जेट के 4 अस्‍त्र, पाकिस्‍तान और चीन होंगे पस्‍त

नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

आग के गोले की तरह बरसते हैं राफेल फाइटर जेट के 4 अस्‍त्र, पाकिस्‍तान और चीन होंगे पस्‍तदुनिया की चौथी सबसे बड़ी वायसेना इंडियन एयरफोर्स के हथियारों के जखीरे में कुछ ही घंटे बाद एक और ‘ब्रह्मास्‍त्र’ शामिल होने जा रहा है। इस हथियार का नाम है राफेल फाइटर जेट। राफेल का हिंदी में मतलब है ‘आग का गोला’। राफेल तबाही का दूसरा नाम है। राफेल फाइटर जेट अपने नाम के अनुसार ही हवा के तेज झोके की तरह से आते हैं और आग के गोले की तरह से दुश्‍मन को बर्बाद कर देते हैं।

Meteor मिसाइल से ‘अदृश्‍य’ दुश्‍मन भी तबाह

NBT

राफेल फाइटर जेट को दुनिया की सबसे घातक हवा से हवा में मार करने वाली Meteor मिसाइलों से लैस किया गया है। आलम यह है कि दुनिया में इस समय जितनी भी मध्‍यम दूरी की एयर टू एयर मिसाइलें हैं, उनसे तीन गुना ज्‍यादा दूरी तक Meteor मिसाइल दुश्‍मन के फाइटर जेट को तबाह कर सकती है। यह मिसाइल आंखों से नजर न आने वाले दुश्‍मन के फाइटर जेट को 100 किमी दूरी से मार गिरा सकती है। इस फ्रांसीसी यूरोपीय मिसाइल के सामने पाकिस्‍तान की अमेरिका निर्मित AMRAAM मिसाइल कहीं नहीं ठहरती है। इसकी स्‍पीड 4 मैक से भी ज्‍यादा है।

Meteor को स्‍टील्‍थ मिसाइल कहा जाता है जो किसी भी मौसम में एक के बाद एक टारगेट को निशाना बनाने में सक्षम है। इस घातक मिसाइल में दोतरफा डेटालिंक है। इससे यह रास्‍ते में ही अपना लक्ष्‍य बदल सकती है और सीकर की मदद से नए लक्ष्‍य पर निशाना साध सकती है। इस मिसाइल में रैमजेट इंजन लगा होता है जो उसे लगातार उसे 4 मैक से ज्‍यादा की गति बनाए रखने में मदद करता है।

मीका एयर-टू-एयर मिसाइल, दागो और भूल जाओ

NBT

राफेल फाइटर जेट कम और मध्‍यम दूरी तक मार करने वाली मीका (MICA) मिसाइल से लैस है। मीका मिसाइल किसी भी मौसम में दुश्‍मन के ड्रोन और फाइटर जेट को बर्बाद करने में सक्षम है। मीका मिसाइल ‘दागो और भूल जाओ’ के सिद्धांत पर काम करती है। इसे फाइटर जेट और जंगी जहाजों से भी छोड़ा जा सकता है। इस मिसाइल का मिराज-2000 फाइटर जेट में भी इस्‍तेमाल किया जाता है। इसका वजन करीब 112 किलोग्राम होता है। इसकी रेंज 500 मीटर से लेकर 80 किलोमीटर तक है। यह मिसाइल 4 मैक की स्‍पीड से दुश्‍मन पर हमला करती है।

स्‍कल्‍प क्रूज मिसाइल, दुश्‍मन के घर में घुसकर वार

NBT

राफेल फाइटर जेट की सबसे बड़ी खासियत इसकी स्‍कल्‍प क्रूज मिसाइलें हैं जो दुश्‍मन के घर में घुसकर तबाही मचाने में सक्षम हैं। स्‍कल्‍प के आ जाने से अब भारत के फाइटर जेट को बालाकोट की तरह से पाकिस्‍तानी एयरस्‍पेस में नहीं घुसना पड़ेगा। स्‍कल्‍प क्रूज मिसाइल की मारक क्षमता 300 किलोमीटर है और इसीलिए इसे ‘गेम चेंजिंज’ मिसाइल कहा जाता है। इसे मिसाइल के जरिए दुश्‍मन के किसी भी बड़े और अतिसुरक्षित ठिकाने को आसानी से बर्बाद किया जा सकता है। फ्रांस की सेना इन मिसाइलों का सफलतापूर्वक इस्‍तेमाल कर चुकी है। इस घातक मिसाइल का वजन 1300 किलोग्राम है। एक स्‍कल्‍प मिसाइल की कीमत करीब साढ़े सात करोड़ रुपये है। यह मिसाइल करीब 1 हजार किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हमला करती है। स्‍कल्‍प मिसाइल में जीपीएस लगा होता है जो इसे सटीक न‍िशाना लगाने में मदद करता है।

हैमर के वार से एक झटके में बर्बाद होंगे चीनी बंकर

NBT

चीन के लद्दाख से सटे पहाड़ी सैन्‍य ठिकानों को बर्बाद करने के लिए भारत ने फ्रांस से हैमर मिसाइलों को खरीदने का फैसला किया है। यह मिसाइल किसी भी प्रकार के बंकर या सख्त सतह को पल में मटियामेट करने की ताकत रखती है। यह किसी भी स्थिति में बेहद उपयोगी है। बेहद कठिन पूर्वी लद्दाख जैसे इलाकों में इसकी मारक क्षमता पर कोई असर नहीं पड़ता है। हैमर मिसाइल 20 किलोमीटर से 70 किलोमीटर की दूरी तक अचूक निशाना लगाने में माहिर है। हैमर को दुश्मन का एयर डिफेंस सिस्‍टम भी पकड़ नहीं पाता है। HAMMER एक अत्याधुनिक हथियार है। इसे कई तरह से संचालित किया जा सकता है। इसे सैटेलाइट के जरिए, इंफ्रा रेड सीकर के जरिए या फिर लेजर के जरिए गाइड किया जा सकता है। यह हवा में कम ऊंचाई से लेकर पहाड़ी इलाको में समान क्षमता के साथ करती है। राफेल एकसाथ 250 किलोग्राम के 6 हैमर मिसाइल को ले जा सकता है। यह एकसाथ 6 टारगेट को निशाना लगा सकता है।

Source link

Samrat Mixture