Samrat Mixture
Breaking News

फ्रांस से आज भारत के लिए उड़ा राफेल, जानें कैसी पूरी होगी यात्रा

Rafale jets: भारतीय वायुसेना की बहुप्रतीक्षित मुराद आज पूरी होने जा रही है। राफेल लड़ाकू व‍िमान आज फ्रांस से भारत के लिए रवाना होने जा रहे हैं। बताया जा रहा है क‍ि 5 राफेल भारत आ रहे हैं।

Edited By Shailesh Shukla | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

अगले हफ्ते भारत आ रहा राफेल, चीन बॉर्डर पर हो सकती है तैनातीअगले हफ्ते भारत आ रहा राफेल, चीन बॉर्डर पर हो सकती है तैनाती
हाइलाइट्स

  • भारतीय वायुसेना के सबसे घातक फाइटर जेट राफेल आज फ्रांस से भारत के लिए रवाना होने जा रहे हैं
  • चीन, पाकिस्‍तान के साथ चल रहे तनाव के बीच इन फाइटर जेट का भारत आना काफी अहम माना जा रहा
  • राफेल विमानों के रवाना होने से पहले फ्रांस में भारतीय दूतावास ने इन विमानों की तस्‍वीर जारी की है

पेरिस

अत्‍याधुनिक मिसाइलों और घातक बमों से लैस भारतीय वायुसेना के सबसे घातक फाइटर जेट राफेल आज फ्रांस से भारत के लिए रवाना होने जा रहे हैं। चीन और पाकिस्‍तान के साथ चल रहे तनाव के बीच इन फाइटर जेट का भारत के लिए रवाना होना काफी अहम माना जा रहा है। राफेल विमानों के रवाना होने से पहले फ्रांस में भारतीय दूतावास ने इन राफेल विमानों और इंडियन एयरफोर्स के जाबांज पायलटों की तस्‍वीर जारी की है।

ये विमान 29 जुलाई को अंबाला में एयरफोर्स में शामिल किए जाएंगे। सूत्रों के मुताबिक आज फ्रांस से 5 या 6 फाइटर जेट भारत के लिए रवाना होंगे। उन्‍होंने बताया कि एक हफ्ते के अंदर ही इन विमानों को किसी भी मिशन के लिए तैयार कर लिया जाएगा। इन फाइटर जेट को उड़ाने के लिए कुल 12 पायलटों को ट्रेनिंग दी गई है। दुनिया की सबसे घातक मिसाइलों और सेमी स्‍टील्‍थ तकनीक से लैस इन विमानों के भारतीय वायुसेना में शामिल होने से देश की सामरिक शक्ति में जबरदस्त इजाफा होगा। भारत आने वाले राफेल फाइटर जेट्स में दुनिया की सबसे आधुनिक हवा से हवा में मार करने वाली मीटिआर मिसाइल भी लगी होंगी।

अबूधाबी के हवाई ठिकाने पर ब्रेक लेंगे राफेल

राफेल जेट फ्रांस के मेरिजनाक से भारत उड़कर आएंगे। भारतीय वायुसेना ने इसके लिए पूरी योजना तैयार कर ली है क्योंकि रास्ते में ये फाइटर जेट कई देशों की सीमाओं से होकर भारत के जामनगर पहुंचेंगे। राफेल विमान फ्रांस से भारत तक का सफर पूरा करने के दौरान लगभग 1000 किमी प्रतिघंटे की गति से उड़ान भरेंगे। हालांकि, राफेल की अधितकम स्पीड 2222 किमी प्रति घंटा है।

राफेल संग हैमर मिसाइल, घातक कांबिनेशन

  • राफेल संग हैमर मिसाइल, घातक कांबिनेशन

    चीन से निपटने के लिए वायुसेना हर मोर्चे पर आगे रहना चाहती है। ANI की रिपोर्ट के मुताबिक वायुसेना ने एक अन्य घातक हथियार का ऑर्डर दिया है। यह हथियार है HAMMER। हवा से सतह पर मार करने वाली वाली यह मिसाइल फ्रांस से ही मंगाया जा रहा है।

  • फ्रांस जल्दी ही देगा भारत को हैमर, कांपेगा चीन

    फ्रांस भारत के आग्रह पर यह घातक मिसाइल जल्द देने पर सहमत हो गया है। राफेल से फायर होने के बाद इस मिसाइल की मारक क्षमता काफी बढ़ जाती है। इसका निशाना अचूक है। फ्रांस को इस विमान में हैमर मिसाइल लगाने का आपातकालीन आदेश देने के लिए जरूरी प्रक्रिया पूरी की जा रही है।

  • बेहद घातक है हैमर, बंकरों को पल में कर देता ध्वस्त

    राफेल के हैमर मिसाइल से लैस होने के बाद भारत को बड़ी बढ़त हासिल हो जाएगी। यह मिसाइल किसी भी प्रकार के बंकर या सख्त सतह को पल में मटियामेट करने की ताकत रखता है। यह किसी भी स्थिति में बेहद उपयोगी है। बेहद कठिन पूर्वी लद्दाख जैसे इलाकों में इसकी मारक क्षमता पर कोई असर नहीं पड़ती है।

  • 70 किलोमीटर तक है हैमर की मारक क्षमता

    इस घातक हथियार की मारक क्षमता बड़ी तगड़ी है। यह 20 किलोमीटर से 70 किलोमीटर की दूरी तक अचूक निशाना लगाने में माहिर है। जिस लड़ाकू विमान से हैमर को फायर किया जाता है वह उसकी मारक दूरी के कारण ही दुश्मन की एयर डिफेंस से बचने में सफल रहता है। क्योंकि दूरी के कारण लड़ाकू विमान दुश्मन के रेडार पर नजर नहीं आता है।

  • हैमर की क्षमता देख हैरान हो जाएंगे

    HAMMER एक अत्याधुनिक हथियार है। इसे कई तरह से संचालित किया जा सकता है। इसे सैटेलाइट के जरिए, इंफ्रा रेड सीकर के जरिए या फिर लेजर के जरिए गाइड किया जा सकता है। यह हवा में कम ऊंचाई से लेकर पहाड़ी इलाको में समान क्षमता के साथ करती है।

  • हैमर में कई तरह के बम कर सकते हैं फिट

    HAMMER मिसाइल किट में अलग-अलग साइज के बम भी फिट किए जा सकते हैं। ये 125 किलो, 250 किलो, 500 किलो यहां तक कि 1000 किलोग्राम के भी हो सकते हैं।

  • राफेल 6 हैमर को एकसाथ ले जा सकता है

    लड़ाकू विमान राफेल एकसाथ 250 किलोग्राम के 6 हैमर मिसाइल को ले जा सकता है। यह एकसाथ 6 टारगेट को निशाना लगा सकता है। हैमर मिसाइल सबसे पहले 2008 में फ्रांस नेवी में शामिल किया गया था।

ये भारतीय राफेल विमान फ्रांस के अबूधाबी स्थित अल धाफरा स्थित हवाई ठिकाने पर उतरेंगे। करीब 10 घंटे की इस यात्रा के दौरान हवा में तेल भरने के लिए दो विमान उनके साथ रहेंगे। ये विमान रातभर रुकने के बाद फिर भारत के लिए रवाना होंगे। इस यात्रा के दौरान दो बार हवा में तेल भरा जाएगा। पायलटों को हवा में तेल भरने की ट्रेनिंग भी दी जाएगी। भारत में पहुंचने के बाद ये विमान अंबाला एयरफोर्स स्टेशन पहुंचेंगे। राफेल के पहले बेड़े को 17 गोल्डन एरो स्क्वॉड्रन के पायलट उड़ाएंगे। इनकी ट्रेनिंग भी फ्रांस में पूरी हो चुकी है।

फ्रांस में भारत के ल‍िए रवाना होने को तैयार राफेल

फ्रांस में भारत के ल‍िए रवाना होने को तैयार राफेल

Web Title rafale jets taking off from france today to join the indian air force fleet in ambala in haryana(Hindi News from Navbharat Times , TIL Network)

रेकमेंडेड खबरें

Source link

Samrat Mixture