Samrat Mixture
Breaking News

सौरभ गांगुली ICC चेयरमैन बनें तो वह ला सकते हैं क्रिकेट में बदलाव: कुमार संगाकारा

श्रीलंका के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज कुमार संगाकार (Kumar Sangakkara) ने आईसीसी के नए अध्यक्ष के लिए पूर्व भारतीय कप्तान और मौजूदा बीसीसीआई अध्यक्ष सौरभ गांगुली (Sourav Ganguly) का समर्थन किया है।

भाषा | Updated:

NBT
हाइलाइट्स

  • गांगुली का शार्प माइंड, इंटरनैशनल क्रिकेट में ला सकता है पॉजिटिव बदलाव: संगाकारा
  • ‘प्रशासक के रूप में उनका अनुभव उन्हें बनाता है इस पद के लिए उपयुक्त दावेदार’
  • गांगुली में रिश्ते बनाने की क्षमता, जो संचालन संस्था में प्रभावी पद के लिए महत्वपूर्ण
  • संगाकारा से पहले ग्रीम स्मिथ भी इस पद के लिए कर चुके हैं सौरभ गांगुली का समर्थन

नई दिल्ली

श्रीलंका के दिग्गज क्रिकेटर कुमार संगाकारा (Kumar Sangakkara) ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) के चेयरमैन पद के लिए सौरभ गांगुली (Sourav Ganguly) का समर्थन किया है। श्रीलंका के इस पूर्व कप्तान ने कहा कि भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) के अध्यक्ष का ‘कुशाग्र क्रिकेट दिमाग’ और प्रशासक के रूप में अनुभव उन्हें इस भूमिका के लिए ‘काफी उपयुक्त’ दावेदार बनाता है।

संगाकारा (Kumar Sangakkara Supports Sourav Ganguly for ICC Chairman) ने स्वीकार किया कि वह गांगुली के बड़े समर्थक हैं। उन्होंने कहा कि पूर्व भारतीय कप्तान की अंतरराष्ट्रीय मानसिकता है, जो महत्वपूर्ण पदों पर रहते हुए पक्षपात रहित रहने के लिए जरूरी है। मेरिलबोन क्रिकेट क्लब (MCC) के वर्तमान अध्यक्ष संगाकारा ने ‘इंडिया टुडे’ से कहा, ‘मुझे लगता है कि सौरभ गांगुली बदलाव ला सकते हैं। दादा (गांगुली) का बड़ा प्रशंसक हूं, सिर्फ क्रिकेटर के रूप में उनके दर्जे के कारण नहीं बल्कि मुझे लगता है कि उनके पास कुशाग्र क्रिकेट दिमाग है।’

ग्राहम गूच, 456 रन (भारत vs इंग्लैंड, 1990 )

  • ग्राहम गूच, 456 रन (भारत vs इंग्लैंड, 1990 )

    इंग्लैंड के पूर्व कप्तान और दिग्गज बल्लेबाज ग्राहम गूच (Graham Gooch) इस लिस्ट में सबसे ऊपर हैं। गूच ने भारत के खिलाफ 1990 लॉर्ड्स टेस्ट मैच में 456 रन बनाए थे। गूच ने पहली पारी में शानदार 333 रन बनाए और दूसरी में भी शतक जमाते हुए 123 रनों की पारी खेली। गूच ने इंग्लैंड के लिए कुल 118 टेस्ट मैच खेले और 8900 रन बनाए। उन्होंने 1995 में जब क्रिकेट छोड़ा तो वह इंग्लैंड के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज थे। वह आज भी ऐलिस्टर कुक (12145) के बाद इंग्लैंड के लिए टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं।

  • मार्क टेलर, 426 रन (पाकिस्तान vs ऑस्ट्रेलिया, 1998)

    ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान इस लिस्ट में दूसरे पायदान पर हैं। बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने अक्टूबर 1998 में पाकिस्तान के खिलाफ पेशावर में खेले गए टेस्ट मैच में कुल 426 रन बनाए। उन्होंने पहली पारी में नाबाद 334 रन बनाए और दूसरी पारी में 92 रनों की पारी खेली। टेलर ने सर डॉन ब्रैडमैन (334) के स्कोर को सम्मान देने के लिए 334 के स्कोर पर पहुंचने के बाद पारी घोषित कर दी थी।

  • मार्क टेलर के टेस्ट करियर पर एक नजर

    इस मैच में ऑस्ट्रेलिया ने अपनी पहली पारी में चार विकेट पर 599 रनों का बड़ा स्कोर बनाया था। जवाब में पाकिस्तान ने भी 9 विकेट परर 580 का स्कोर खड़ा कर दिया था। मैच में अपनी दूसरी पारी में ऑस्ट्रेलिया ने पांच विकेट पर 289 रन बनाए। मैच ड्रॉ रहा। अपने पूरे करियर में टेलर ने 104 टेस्ट मैच खेले और 43.49 के औसत से 7525 रन बनाए। उन्होंने 19 सेंचुरी और 40 हाफ सेंचुरी जड़ीं।

  • कुमार संगाकारा, 424 रन (बांग्लादेश vs श्रीलंका, 2014)

    एक और बाएं हाथ का बल्लेबाज। संगाकारा ने फरवरी 2014 में बांगलादेश के खिलाफ चिटगांव में पहली पारी में तिहरा शतक लगाया और कुल 319 रन बनाए। इसके बाद दूसरी पारी में भी उन्होंने शतक लगाया और 105 रन बनाए। चिटगांव में बनाए गए 319 रन उनके करियर का बेस्ट प्रदर्शन है। श्रीलंका ने अपनी पहली पारी में 587 रन बनाए और यह मैच हालांकि ड्रॉ रहा।

  • ब्रैडमैन के बाद संगाकारा के नाम हैं सर्वाधिक दोहरे शतक

    टेस्ट क्रिकेट में सर डॉन ब्रैडमैन (12) के बाद सबसे ज्यादा 11 दोहरे शतक लगाने वाले इस क्लासिकल बल्लेबाज ने 134 टेस्ट मैच खेले। उन्होंने इस दौरान 57.40 के कमाल के औसत से 12400 रन बनाए। टेस्ट क्रिकेट में संगाकारा के नाम 38 शतक और 52 अर्धशतक दर्ज हैं।

  • ब्रायन लारा, 400* रन (वेस्टइंडीज vs इंग्लैंड, 2004)

    बल्लेबाजी के किसी रेकॉर्ड की बात हो और बाएं हाथ के इस स्टाइलिश, एलिगेंट, क्लासिकल और अटैकिंग बल्लेबाज का नाम न आए, यह संभव नहीं। वेस्टइंडीज के इस पूर्व कप्तान ने इंग्लैंड के खिलाफ सेंट जोंस में वो कर दिखाया जो कोई दूसरा बल्लेबाज आज तक नहीं कर पाया है। उन्होंने टेस्ट मैच की एक पारी में 400 रन बनाए। इसी मैदान पर लारा ने 375 रन की पारी खेली थी। और साल 2004 में उन्होंने इसी मैदान पर 400 रन बना दिए। लारा की पारी को रामनरेश सरवन (90) और रिडले जैकब्स (107) का बखूबी साथ मिला। वेस्टइंडीज ने पांच विकेट पर 751 रन बनाए।

  • टेस्ट क्रिकेट में पहले 11 हजारी थे ब्रायन लारा

    इंग्लैंड की पहली पारी 285 रनों पर सिमट गई। हालांकि फॉलोऑन में इंग्लैंड के खेल में काफी सुधार आया और उसने पांच विकेट पर 422 रन बनाकर मैच बचा लिया। कप्तान माइकल वॉन ने शानदार 140 रन बनाए। वेस्टइंडीज को दूसरी पारी में बल्लेबाजी का मौका ही नहीं मिला। लारा के करियर की बात करें तो उन्होंने 131 टेस्ट मैचों में 11953 रन बनाए। वह 11 हजार टेस्ट रन बनाने वाले पहले बल्लेबाज थे। अपने टेस्ट करियर में लारा ने 34 शतक और 48 अर्धशतक लगाए।

उन्होंने कहा, ‘वह दिल से क्रिकेट के सर्वश्रेष्ठ हित के बारे में सोचते हैं और जब आप आईसीसी में हो तो यह सिर्फ इसलिए नहीं बदलना चाहिए कि आप बीसीसीआई अध्यक्ष हो या इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड के या श्रीलंका क्रिकेट या किसी अन्य बोर्ड के।’

16 साल बाद मोहम्मद कैफ ने हेमंग बदानी से मांगी माफी



संगाकारा ने कहा, ‘आपकी मानसिकता अंतरराष्ट्रीय होनी चाहिए और आप जहां से आए तो वहां को लेकर भेदभाव नहीं होना चाहिए, जैसे कि मैं भारतीय, श्रीलंकाई, ऑस्ट्रेलियाई या इंग्लैंड का हूं। उसे समझना चाहिए कि मैं क्रिकेटर हूं और वही कर रहा हूं, जो क्रिकेट खेलने वाले सभी देशों के लिए सर्वश्रेष्ठ है।’

42 वर्षीय संगाकारा ने कहा कि गांगुली में रिश्ते बनाने की क्षमता है, जो क्रिकेट की संचालन संस्था में प्रभावी पद के लिए महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा, ‘बीसीसीआई अध्यक्ष बनने से पहले भी मैंने उनका काम देखा है। प्रशासन और कोचिंग से भी पहले, उन्होंने किस तरह दुनिया भर के खिलाड़ियों से रिश्ते बनाए, एमसीसी क्रिकेट समिति में उनका कार्यकाल।’

बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष शशांक मनोहर ने इस महीने की शुरुआत में आईसीसी के चेयरमैन पद से इस्तीफा दे दिया। चुनाव होने तक हॉन्गकॉन्ग के इमरान ख्वाजा को अंतरिम चेयरमैन बनाया गया है। संगाकारा एकमात्र पूर्व अंतरराष्ट्रीय कप्तान नहीं हैं जिन्होंने गांगुली का समर्थन किया है। साउथ अफ्रीका के पूर्व कप्तान और क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका के क्रिकेट निदेशक ग्रीम स्मिथ ने भी इस पद के लिए गांगुली का समर्थन किया है। गांगुली ने हालांकि हाल में कहा था कि आईसीसी पद को लेकर उन्हें कोई जल्दबाजी नहीं है।

Web Title kumar sangakkara endorsed sourav ganguly for the post of icc chairman(Hindi News from Navbharat Times , TIL Network)

रेकमेंडेड खबरें

Source link

Samrat Mixture