Samrat Mixture
Breaking News

नेपाल: PM ओली संग नहीं बनी बात, प्रचंड बोले- ‘अभी टूट सकती है पार्टी’

Edited By Shatakshi Asthana | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

नेपाल: ओली को बचाने में चीनी राजदूत ने झोकी ताकतनेपाल: ओली को बचाने में चीनी राजदूत ने झोकी ताकत
हाइलाइट्स

  • नेपाल का राजनीतिक संकट अभी टला नहीं है
  • पीएम ओली पर हमलावर हैं पुष्प दहल प्रचंड
  • चर्चाओं का दौर जारी लेकिन नहीं बनी बात
  • PM ने रजिस्टर कराई है नई पार्टी: दहल
  • देशभर में प्रदर्शन कराने पर भी आलोचना

काठमांडू

कुछ दिन पहले तक लग रहा था कि शायद नेपाल की राजनीति में उठा तूफान शांत हो सकता है। हालांकि, नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी (NCP) के को-चेयर और प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली के प्रमुख विरोधी नेता पुष्प कमल दहल ‘प्रचंड’ ने साफ कह दिया है कि अभी पार्टी टूटने की आशंका खत्म नहीं हुई है। उन्होंने आरोप लगाया है कि पीएम ओली क कहने पर कुछ लोगों ने देश के निर्वाचन आयोग के पास CPN-UMN नाम की पार्टी रजिस्टर कराई है।

‘संकट की वजह ओली का बर्ताव’

नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी (एनसीपी) की स्थाई समिति की बैठक में प्रधानमंत्री ओली के धड़े और पूर्व प्रधानमंत्री प्रचंड के खेमे के बीच के मतभेदों को दूर नहीं किया जा सका। इसी बैठक के कुछ दिन बाद प्रचंड ने यह बयान दिया है। myrepublica की रिपोर्ट के मुताबिक पुष्प लाल श्रेष्ठ और नर बहादुर कर्मचार्य के स्मृति दिवस पर काठमांडू में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान चेयरमैन दहल ने संकेत दिए किए NCP में संकट की वजह पीएम ओली का बर्ताव है।

ओली-प्रचंड में सीक्रेट डील! कैबिनेट फेरबदल से बगावत रोकने की कोशिश

संकट में है पार्टी: दहल

दहल ने कहा, ‘बातचीत के बावजूद पार्टी के दूसरे चेयरमैन के कहने पर निर्वाचन आयोग में CPN-UML नाम की पार्टी रजिस्टर कराई गई जिससे हमारी पार्टी संकट में है।’ EC में CPN-UML नाम की पार्टी के रजिस्ट्रेशन के लिए 1 जुलाई को आवेदन दिया गया था। यह पार्टी संध्या तिवारी के नाम से दिया गया था। पीएम ओली पर पार्टी को तोड़ने की कोशिश करने का आरोप लगाते हुए दहल ने पीएम की आलोचना की कि उन्होंने अपने पक्ष में छात्रों और पार्टी कार्यकर्ताओं से प्रदर्शन कराए। उन्होंने कहा, ‘हम पार्टी के अंदर चर्चा कर रहे हैं लेकिन देशभर में प्रदर्शन हो रहे हैं।’

नेपाल: प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली और प्रचंड की ‘डील’ से सकते में ‘नेपाल’, दी धमकी

दहल और ओली में सीक्रेट डील?

दहल और पार्टी के सीनियर नेता माधव कुमार नेपाल के ओली का इस्तीफा मांगने के बाद से देशभर में प्रदर्शन हो रहे हैं जबकि बातचीत के बाद पार्टी के अंदर मतभेद पटते नजर आने लगे थे। कहा जा रहा था कि पीएम ओली और प्रचंड के बीच एक सीक्रेट डील हुई है जिसके तहत आने वाले कुछ दिनों में नेपाली कैबिनेट में फेरबदल किया जाएगा। इस दौरान प्रचंड गुट के कई नेताओं को कैबिनेट में मलाईदार पद मिलने की संभावना है। 28 जुलाई को होने वाले पार्टी की स्थायी समिति की बैठक के बाद इस फेरबदल की संभावना है।

नेपाल नक्शे पर सच बोलना सांसद को पड़ा भारीनेपाल नक्शे पर सच बोलना सांसद को पड़ा भारी

ओली-दहल आमने-सामने

ओली-दहल आमने-सामने

Source link

Samrat Mixture