Samrat Mixture
Breaking News

Realme, Xiaomi और Samsung जैसी कंपनियों पर आरोप, सिर्फ ऑनलाइन पर फोकस

सांकेतिक तस्वीरसांकेतिक तस्वीर

दानिश खान, नई दिल्ली

मोबाइल रिटेलर्स ने एक बार फिर चाइनीज स्मार्टफोन कंपनियां शाओमी और रियलमी के अलावा कोरिया की कंपनी सैमसंग पर आरोप लगाया है कि वे ऑफलाइन मार्केट को नुकसान पहुंचा रहे हैं। आरोप है कि ये कंपनियां पूरी तरह से ऑनलाइन पर फोकस कर रही हैं और इसकी वजह से ऑफलाइन रिटेलर्स को नुकसान पहुंचा है। रिटेलर्स का कहना है कि ऑफलाइन स्टॉक ना होने की वजह से उन्हें नुकसान उठाना पड़ रहा है।

ऑल इंडिया मोबाइल रिटेलर एसोसिएशन (AIMRA) के नैशनल प्रेजिडेंट अरविंद खुराना ने कहा, ‘Realme Narzo का स्टॉक ऑफलाइन उपलब्ध नहीं है। कंपनी के पास स्टॉक है लेकिन सारे डिवाइसेज ऑनलाइन डायवर्ट किए जा रहे हैं। इसके अलावा 15,000 रुपये से कम कीमत वाले सेगमेंट में डिमांड होने के बाद भी C सीरीज का स्टॉक ऑफलाइन मार्केट में नहीं दिया गया है। ऑनलाइन और ऑफलाइन के बीच कंपनी का अनुपात 80:20 का है।’



पढ़ें: रियलमी के फोन में थे बैन चाइनीज ऐप, अब नहीं मिलेंगे
शाओमी के फोन भी मार्केट से गायब


खुराना ने कहा कि भारत में टॉप पोजीशन पर मौजूद ब्रैंड शाओमी भी इसके ऑफलाइन पार्टनर्स को सपॉर्ट नहीं कर रहा है। उन्होंने कहा, ‘शाओमी अपने खुद के ऑनलाइन चैनल से डिवाइसेज की सेल कर रही है और ऑलाइन पार्टनर्स को डिवाइसेज ना देकर 4 से 5 प्रतिशत प्रॉफिट मार्जिन बचा रही है। पूरी की पूरी Redmi 9 सीरीज ऑफलाइन स्मार्टफोन मार्केट से गायब है।’ शाओमी के ऑफलाइन पार्टनर्स को इसके चलते नुकसान उठाना पड़ रहा है। सैमसंग के फोन भी ऑनलाइन सेल के लिए आ रहे हैं।

पढ़ें: वनप्लस नॉर्ड की सेल से पहले बंपर डिमांड, नया रेकॉर्ड

ऑफलाइन रिटेलर्स को नुकसान

मार्केट्स ट्रेंड्स को देखते हुए ओप्पो और वीवो भी ऑफलाइन मार्जिन्स कम कर रहे हैं और ऑनलाइन पर फोकस करने लगे हैं। इसे लेकर ऑफलाइन रिटेलर्स नाराज हैं और खुराना के मुताबिक 40 से 45 प्रतिशत का नुकसान ऑफलाइन रिटेलर्स को उठाना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि ब्रैंड्स से इस बारे में बात करने पर कहा गया कि कोरोना वायरस लॉकडाउन की वजह से उन्हें नुकसान हुआ है, जिसकी भरपाई के लिए अभी ऑनलाइन सेल होती रहेगी। रिटेलर्स ने इन कंपनियों को लेटर लिखकर शिकायत की है।

अगली स्टोरी

Source link

Samrat Mixture