Samrat Mixture
Breaking News

‘विजडन ट्रोफी’ का बदला नाम, अब रिचर्ड्स-बॉथम ट्रोफी के लिए खेलेंगे वेस्टइंडीज और इंग्लैंड

जो रूट और जेसन होल्डरजो रूट और जेसन होल्डर

मैनचेस्टर

इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच अगली टेस्ट सीरीज ‘रिचर्ड्स-बॉथम सीरीज ’ होगी चूंकि ‘विजडन ट्रोफी’ को दोनों टीमों के इन महान खिलाड़ियों के नाम पर नया नाम दिया गया है। इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच तीसरा टेस्ट आखिरी होगा जिसे विजडन ट्रोफी के लिए खेला जाएगा। इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) और क्रिकेट वेस्टइंडीज ने संयुक्त बयान में यह घोषणा की। ईसीबी ने कहा, ‘इंग्लैंड और वेस्टइंडीज अगली टेस्ट सीरीज के लिए खेलेंगे तो उसे रिचर्ड्स-बॉथम ट्रोफी कहा जाएगा।

यह उन दोनों महान खिलाड़ियों के प्रति सम्मान होगा जिनकी मैदानी प्रतिद्वंद्विता और दोस्ती से दोनों टीमों के बीच करीबी रिश्तों और आपसी सम्मान की बानगी मिलती है।’ बोर्ड ने एक विज्ञप्ति में कहा, ‘मैदान पर कड़े प्रतिद्वंद्वी और मैदान से बाहर करीबी दोस्त रही इन दोनों टीमों के रिश्तों का जश्न मनाने का यह शानदार तरीका होगा।’ सर विवियन रिचर्ड्स ने 121 टेस्ट में 24 शतक समेत 8540 रन बनाए जबकि सर इयान बॉथम ने 102 टेस्ट में 5200 रन बनाने के साथ 383 विकेट लिए।

पढ़ें- सचिन-शास्त्री के इस मंत्र से कोहली बने ‘विराट’

रिचर्ड्स ने कहा, ‘यह मेरे और मेरे अच्छे दोस्त इयान के लिए बड़े फख्र की बात है।’ उन्होंने कहा, ‘क्रिकेट के मैदान पर हमारी उपलब्धियों के सम्मान में इस ट्रोफी का नाम रखा जाना हमारे लिए गर्व की बात है। यह मैदान के बाहर भी हमारे रिश्तों के बारे में काफी कुछ कहती है।’ बॉथम ने कहा, ‘विवियन उन सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में से एक है जिनके खिलाफ हमने खेला है।’

देखें- स्कोर: इंग्लैंड vs वेस्टइंडीज ‘फाइनल’ टेस्ट

उन्होंने कहा, ‘वह शानदार दोस्त है और हम मैदान पर हमेशा कड़े प्रतिद्वंद्वी रहे हैं। उनसे ज्यादा किसी के विकेट ने मुझे इतना आनंदित नहीं किया।’ उन्होंने स्वीकार किया कि सत्तर और अस्सी के दशक में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेलना काफी कठिन था। विजडन क्रिकेटर्स अलमैनेक के सौवें संस्करण के मौके पर 1963 में शुरू हुई विजडन ट्रोफी अब रिटायर हो जाएगी। इसे लॉर्ड्स पर एमसीसी संग्रहालय में रखा जाएगा।

Source link

Samrat Mixture