Samrat Mixture
Breaking News

बांग्लादेश: अस्पताल मालिक ने कोरोना वायरस के नाम पर लोगों से 12.5 करोड़ टका हड़पे

Edited By Shailesh Shukla | आईएएनएस | Updated:

सांकेतिक तस्‍वीरसांकेतिक तस्‍वीर

ढाका

बांग्लादेश में एक अस्पताल के मालिक ने विभिन्न व्यक्तियों और संगठनों को 12.5 करोड़ टका का चूना लगाया है। यह व्यक्ति धोखाधड़ी और कथित तौर पर कोविड-19 की हजारों फर्जी जांच रिपोर्ट जारी करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। बांग्लादेश पुलिस की एलीट फोर्स, रैपिड एक्शन बटालियन (आरएबी) को रीजेंट हॉस्पिटल के मालिक मोहम्मद शाहेद करीम के खिलाफ पिछले पांच दिनों में पीड़ितों से 160 शिकायतें मिली हैं।

इसके अलावा, आरएबी ने शाहेद के खिलाफ कुल 48 नियमित मामले भी पाए हैं। आरएबी के कानूनी व मीडिया विंग के निदेशक लेफ्टिनेंट कर्नल आशिक बिलाह ने बताया कि अस्पताल में एक अभियान चलाने के बाद तीन मामले दर्ज किए गए। इनमें से एक शाहेद समेत 17 लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी का है जिसे राजधानी के उत्तरा थाने में दर्ज कराया गया है।

दूसरा मामला शस्त्र और आतंकवाद-रोधी अधिनियम के तहत दर्ज किया गया क्योंकि शाहेद को हथियारों के साथ गिरफ्तार किया गया। तीसरा मामला जाली मुद्रा मिलने के बाद विशेष अधिकार अधिनियम के तहत दर्ज किया गया। साथ ही, बांग्लादेश के भ्रष्टाचार-रोधी आयोग (एसीसी) ने कोर्ट में याचिका प्रस्तुत कर बताया है कि शाहेद को नवंबर 2014 से जनवरी 2018 के बीच एनआरबी बैंक लिमिटेड के लगभग 1.51 करोड़ टका के गबन मामले में गिरफ्तार किया गया है।

अदालत ने जांच अधिकारी को 16 अगस्त तक मामले की जांच रिपोर्ट देने का निर्देश दिया है। शाहेद तब सुर्खियों में आया जब अस्पताल में छापेमारी के बाद उसके द्वारा फर्जी कोविड-19 सर्टिफिकेट जारी करने और मरीजों से इलाज के लिए अवैध रूप से शुल्क वसूलने का मामला सामने आया। शाहेद को 15 जुलाई की सुबह सतखीरा स्थित बांग्लादेश-भारत सीमा से गिरफ्तार किया गया था। वह नाव पर सवार होकर इच्छामति नदी को पार कर देश छोड़ने की कोशिश कर रहा था। ढाका स्थित वरिष्ठ विशेष न्यायाधीश की अदालत के न्यायाधीश केएम इमरुल कायेश ने याचिका पर वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से अगली सुनवाई के लिए पांच अगस्त की तारीख तय की है।

Source link

Samrat Mixture